दीपों का त्यौहार

आया देखो आया देखो दीपों का त्यौहार,
लेकर आया है ये मस्त पटाखों का संसार.

मिलकर घरवालों के संग मनालो ये त्यौहार,
पर पटाखों से ना हो पर्यावरण पर प्रहार.

मिलने का मौसम आया, महफिलें जमालो,
और अपनी खुशियों का संसार बसालो.

बच्चे जलाएंगे फुलझाडियाँ,बड़े बाटेंगे मिठाइयाँ.
मौसम लायेगा मस्त बहार, फिजाएं में जैसे शहनाइयां.

झूमेगा सारा संसार, गाएगा हर परिवार,
अब तो होगा हर जगह, खुशियों का अम्बार…

देखो यारों देखो आया दीपों का त्यौहार,
इसके आने से देखो झूम उठा संसार.

5 Comments

  1. alag sa said,

    October 28, 2008 at 4:25 am

    आपको सपरिवार दीपोत्सव की शुभ कामनाएं। सब जने सुखी, स्वस्थ एवं प्रसन्न रहें। यही प्रभू से प्रार्थना है।

  2. prakharhindutva said,

    October 28, 2008 at 4:41 am

    मैं न तो दिवाली की शुभकामनाएँ दूँगा न ही इन मुसलमानों के रहते दिवाली मनागा.. क्योंकि जानता हूँ यही हमारी मातृभूमि के साँप हैं… अतएव इनकी विचारधारा इसलाम को देश से खदेड़ के ही हमें चैन मिलेगा…. जय भारत.. जय हिन्दुत्व

    http://www.prakharhindu.blogspot.com

  3. रीतेश रंजन said,

    October 28, 2008 at 4:54 am

    मेरी ओर से भी आप सभी भाई बंधुओं को दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं!

  4. संगीता पुरी said,

    October 28, 2008 at 5:04 am

    आपको एवं आपके परिवार को भी दीपावली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

  5. mahashakti said,

    October 29, 2008 at 1:23 am

    आपकी कविता की तरह सबकी दीपावली मने ऐसी प्रभु से कामना है।

    जय हनुमान


Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: