एक ब्लॉगर मीट : प्रमेन्द्र प्रताप सिंह (महाशक्ति) से जबलपुर प्रवास के दौरान

दिनाक ४ अप्रेल को इलाहाबाद से भाई प्रमेन्द्र प्रताप सिंह (महाशक्ति) ने मोबाइल से जानकारी दी कि मै दिनाक 5 अप्रेल को जबलपुर पहुँच रहा हूँ . दिनाक ५ अप्रेल को प्रमेन्द्र जी का मुझे फोन मिला कि मै जबलपुर पहुँच गया हूँ . चूंकि ६ अप्रेल को समीर लाल जी की पुस्तक “बिखरे मोती” का जबलपुर में अंतरिम विमोचन किया जाना था तो वही मुलाकत करने का निश्चय किया . सुबह प्रमेन्द्र प्रताप सिंह का फोन मिला और उन्होंने मुझसे पुछा कि आप कहाँ पर है और मै क्या आपसे मुलाकात कर सकता हूँ तो मैंने उन्हें सहज भाव से घर पर आने का निमंत्रण दे दिया.

प्रमेन्द्र प्रताप सिंह अपने शहर के निवासी ताराचंद जी (जो बर्तमान में हरिभूमि समाचार पत्र जबलपुर में कार्यरत है) के साथ मेरे निवास स्थान पर ठीक १२ बजे पहुँच गए . ब्लागिंग के सन्दर्भ में और वरिष्ठ ब्लागरो के बारे में काफी समय तक हम दोनों एक दूसरे से बातचीत करते रहे . उन्होंने बताया कि इलाहाबाद में उनके घर के समीप ज्ञान जी (मानसिक हलचल) का निवास स्थान है . उनसे काफी देर तक महाशक्ति ब्लॉग और उससे जुड़े ब्लॉगर नीशूजी (बर्तमान में दिल्ली में} और ताराचंद और अन्य जुड़े सहयोगी ब्लागरो के सम्बन्ध में चर्चा होती रही और यह भी विचार किया कि सार्थक ब्लागिंग हो और हम इसमें क्या सहयोग कर सकते है आदि आदि बातो पर हमने विचार किया . करीब पॉँच घंटे कब गुजर गए पता ही नहीं चला .

उसी दिन समीर जी पुस्तक बिखरे मोती के अंतरिम विमोचन के अवसर पर प्रेमेन्द्र प्रताप जी से फिर रात्री में दूसरी मुलाकात हुई . प्रेमेन्द्र जी सात तारीख को दर्शनीय भेडाघाट प्रपात देखने गए और उन्होंने भेडाघाट प्रपात की जमकर तारीफ की और यहाँ के ब्लागरो की उन्होंने जमकर तारीफ भी की . उन्हें जबलपुर शहर और यहाँ के निवासियो का व्यवहार बहुत ही पसंद आया है और फिर से जबलपुर आने का वादा भी किया है . प्रेमेन्द्र जी निहायत व्यवहार कुशल संस्कारवान उत्साही ब्लॉगर है और ब्लागिंग के क्षेत्र में कुछ नया कर गुजरना चाहते है और बेहद उर्जावान नवयुवक है . उनसे पहली बार मुलाकात कर मुझे ऐसा प्रतीत हुआ कि मै किसी सुपरिचित से मुलाकात कर रहा हूँ . यह सच है कि ब्लागिंग के माध्यम से आपस में भाई चारा और सम्बन्ध स्थापित होते है.

Advertisements

11 Comments

  1. neeshoo said,

    April 8, 2009 at 12:25 pm

    सार्थक चर्चा आलेख । महेन्द्र जी और आप सबका मिलन जबलपुर में और समीर लाल जी की पुस्तक विमोचन का तस्वीरों के माध्यम से जाना । बहुत ही अच्छा लगा देख ।

  2. संजय बेंगाणी said,

    April 8, 2009 at 12:40 pm

    ब्लॉगर मिलन की बधाई. बहुत सुन्दर विवरण.

  3. mahashakti said,

    April 8, 2009 at 12:51 pm

    संस्‍कारधानी में पहुँच कर बहुत कुछ पता चला, जो जल्‍द ही लिखूँगा।

    धन्‍यवाद आपको, सजीवता लाने के लिये

  4. मोहन वशिष्‍ठ said,

    April 8, 2009 at 1:03 pm

    वाह जी वाह बहुत सुंदर हमारी कम्‍युनिटी यूं ही दिन दूनी रात चौगुनी बढती रहे सभी को बधाई

  5. संगीता पुरी said,

    April 9, 2009 at 2:00 am

    बहुत सुंदर विवरण … बधाई।

  6. "मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " said,

    April 9, 2009 at 4:54 am

    SHUKRIYA JI

  7. रंजन said,

    April 9, 2009 at 6:27 am

    अच्छा लगा आपकी मुलाकात के बारें में पढ़..

  8. prabhat gopal said,

    April 9, 2009 at 8:00 am

    acha laga jaan kar.

  9. prabhat gopal said,

    April 9, 2009 at 8:00 am

    acha laga jaan kar.

  10. "मुकुल:प्रस्तोता:बावरे फकीरा " said,

    April 13, 2009 at 10:35 am

    Age bhee bhai

  11. Udan Tashtari said,

    April 17, 2009 at 5:57 am

    बढ़िया विवरण और मुलाकात रही. भविष्य में भी मेल जोल जारी रखा जाये. शुभकामनाऐं.


Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: