>इति श्री कुर्सी कथा समाप्त !!!!!!

>

मैं अपनी महिमा गीत ख़ुद गाकर अपने मुंह मियां मिट्ठू नही बनना चाहता । मैं एक कुर्सी हूँ । मैं एक आम घरों से लेकर आम सभा और लोकसभा तक मौजूद हूँ। मैं , मैं हूँ । मेरी इस दुनिया में कोई सानी नही है । मेरी वजह से लोग सारे रिश्ते नाते भूल जाते हैं । मैं जब चाहू ,जहाँ चाहूँ जो चाहूँ कर सकता हूँ , करवा सकता हूँ । इतिहास गवाह है मैंने हमेशा से हुकूमत किया है ।
और मेरी हुकूमत के किस्से सुनाने को आज का वर्तमान गवाही देगा । लोग मेरी एक अदा पर अपना सर्वस्व लुटा देते हैं । किसी का भी गर्दन काट सकता हूँ कटवा सकता हूँ । वैसे तो मेरे चार पैर दो हाथ हैं पर मेरे पास अपना दिमाग नही होता है यही हमारी परम्परा रही है ,मैं कई रंगों और डिजायनों में पाया जाता हूँ । मैं उस व्यक्ति के अनुसार चलता हूँ , जो मुझपर काबिज होता है ।मेरी वजह से दुनिया में झूठ , फरेब , मक्कारी , भ्रष्टाचार , रिश्वत का बोलबाला है । मैं किसी का बना बनाया काम बिगाड़ सकता हूँ और असंभव सा दिखने वाला काम भी चुटकियों में करवा सकता हूँ । मैंने हमेशा इन तुच्छ मानवों पर अपना अधिकार सिद्ध किया है ,और समय समय पर अपनी महत्ता से अवगत कराया है । मानवों की छोड़ो मैंने देवराज इन्द्र को भी नही बख्शा है । मेरी खासियत यह है कि जिसे एक बार मेरी आदत लग गई वो कभी चैन से नहीं रह सकता है , हमेशा उसे मेरी चिंता रहेगी और मुझे बचाने का प्रयास यथा संभव करेगा । वैसे तो मेरा कोई जात धर्म , चरित्र नही है । जब जिसने मुझे अपनाया मैं उसकी प्राण प्यारी हो गई । मैं उस बाजारू औरत की तरह हूँ जिसे जो चाहे जिस तरह चाहे कीमत अदा कर इस्तेमाल कर सकता है , मेरी भी कीमत है और ये कीमत इस बात से तय होती है कि मैं किस जगह पर हूँ । तो भइया इसके बाद आपको भी ये समझ आ ही गया होगा कि यह दुनिया मेरे बगै़र नही चल सकती है। तो छोड़ो सबको और मेरी शरण में आ जाओ ……… और एकमत होकर मेरी महिमा का बखान करो और जोर जोर से गाओ ……….
इति श्री कुर्सी कथा समाप्त !!!!!!!!!!!!!!!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: