>ब्लॉग्गिंग जगत में तुम जैसों ने तो गंध मचा रखा है !

>

August 2, 2009 12:59 PM
Mohammed Umar Kairanvi ने कहा…
गुरू जी फूंक मार गये कान में, पहले वह स्वयं आधे ब्लाग से जा चुके, दानों के जाने का कारण में (अनुमान) , जब जारहे हो तो बताते जाओ कि 8 महीनों में 26 ब्लगरों का सहयोग से ब्लागजगत में रूत्बा Rank-0, और 500 कमेंटस में 40 कमेंटस तो केवल उमर कैरानवी की आलोचना में लिखी गई पोस्ट पर….. देखें इसी ब्लाग पर 29 जुलाई की पोस्ट ”ज़रा देखिये तो इन बेशर्म ब्लोग्गरों को कहीं भी घुसे आते हैं …….” 26 सहपथगामी देख लें अपनी अपनी रैंक, देख कर गुरू को दुआऐं देना “
मियां कैरानवी , अमां यार तुम्हे बधाई हो तुम रेंक -१ में बने रहो ! जैसवाल जी ने तो इसका जबाव दे ही दिया था । पर भैंस के आगे बीन बजाने का का कोई फायदा नही होता ! हम रेंकिंग के लिए काम नही करते और ना ही चंदे के लिए ! अरब देशों से मिलने वाली खैरात के साझीदार बनने के खातिर कुरान का अंट-शंट मतलब निकालने वालों को भला यह बात कैसे समझ में आएगी ? वैसे भी ब्लॉग्गिंग की दुनिया में तुम जैसों ने गंध मचा रखा है ! और टिप्पणियों की फ़िक्र भी तुम्हे और तुम्हारी जमात वालों का ज्यादा है जो कुछ भी लिखने से पहले आने वाली टिप्पणियों का हिसाब जरुर कर लेते हैं। बड़ा आसन है इस्लाम , मुसलमान , मस्जिद , आतंकवाद, बहु-विवाह , मांसाहार जैसे मुद्दों पर लिखो और उत्तेजक शीर्षक दे दो , लोग तो पढेंगे ही ! हम तुमसे तुलना करने लगें तो हो गया ! अरे, केवल तीन पोस्ट के बल पर रेंक -१ के ब्लॉगर बन जाना हमारे बस का नही ! ये तो अल्लाह का कोई बन्दा ही कर सकता है जो मुहम्मद साहब को कल्कि अवतार बताता है ! अल्लाह तुम्हारी यह रेंकिंग बरक़रार रखें !
वैसे ब्लॉग का सफर भी वेबसाईट के संग -संग चलता ही रहेगा और तुम्हे मुहतोड़ जबाव भी !
just log in to http://www.janokti.com
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: