>"मानवता के सच्चे सेवक" कृष्णन को CNN पर वोट दीजिये, भारत का गौरव बढ़ाईये… CNN Hero Vote for Krishnan

>एक वर्ष पहले अक्टूबर 2009 में एक पोस्ट लिखी थी, “फ़ाइव स्टार होटल की नौकरी छोड़कर बेघरों और भिखारियों को खाना खिलाता एक संत” (यहाँ क्लिक करके पढ़ें)। यह पोस्ट श्री नारायण कृष्णन के बारे में है कि वे किस तरह सुबह से शाम तक मदुरै की सड़कों पर बेघरों, अपंगों, भिखारियों को भोजन करवाते हैं।

कृष्णन के इस महान कार्य को नोटिस में लेते हुए CNN ने इन्हें इस वर्ष के “हीरोज़ ऑफ़ द ईयर” के रुप में नामांकित किया है। इनके साथ विभिन्न देशों के नौ अन्य लोग भी हैं जो सभी के सभी, बेसहाराओं, बच्चों अथवा पर्यावरण इत्यादि के लिये अपने-अपने क्षेत्र में निस्वार्थ भाव से जनसेवा में लगे हुए हैं। (इन सभी सच्चे नायकों के बारे यहाँ क्लिक करके पढ़ें…)।

Direct Link :- http://www.youtube.com/watch?v=VRiCpHG8Wmc

संक्षेप में एक बार फ़िर से कृष्णन जी के बारे में जान लीजिये… एक भारतीय फ़ाइव स्टार होटल में कार्यरत युवक जिसे स्विटज़रलैण्ड में शानदार नौकरी का ऑफ़र मिला था, लेकिन उसी दिन मदुराई मन्दिर जाते समय इस युवक ने एक भूखे बेसहारा व्यक्ति को अपना ही मल खाते देखा और वह भीतर तक हिल गया, पल भर में उसने उस हजारों डालर वाली नौकरी को अलविदा कह दिया और मानवता की सेवा में अपना जीवन होम कर देने का फ़ैसला कर लिया।

आज की तारीख में कृष्णन रोज़ाना सुबह चार बजे उठकर अपने हाथों से खाना बनाते हैं, फ़िर अपनी टीम के साथ वैन में सवार होकर मदुरै की सड़कों पर औसतन 200 किमी का चक्कर लगाते हैं तथा जहाँ कहीं भी उन्हें सड़क किनारे भूखे, नंगे, पागल, बीमार, अपंग, बेसहारा, बेघर लोग दिखते हैं वे उन्हें खाना खिलाते हैं… यह काम वे दिन में दो बार करते हैं। औसतन वे रोज़ाना 400 लोगों को भोजन करवाते हैं, तथा समय मिलने पर कई विकलांग और अत्यन्त दीन-हीन अवस्था वाले भिखारियों के बाल काटना और उन्हें नहलाने का काम भी कर डालते हैं।

कृष्णन इन बेघरों और निशक्तों के लिये एक आशियाना भी बनवा रहे हैं ताकि ये लोग सड़कों पर ना भटकते फ़िरें…। एक नज़र डालते हैं उनके रोज़मर्रा के खर्चों पर –

– 400 व्यक्तियों का भोजन
– दिन में तीन बार
– औसतन 200 किमी रोज़ का परिचालन व्यय
(एक बार के भोजन का औसत व्यय 5000 रुपये, अर्थात प्रतिदिन 15,000 रुपये)

इसी प्रकार जो इमारत वे बनवा रहे हैं, उसमें दो व्यक्तियों के लिये कम से कम 130 Sq.ft. की जगह तथा एक साथ एक हॉल में 10 व्यक्तियों के लिये 400 Sq.ft. की जगह का निर्माण कार्य किया जाना है, मदुरै का औसतन रेट रुपये 1200/- प्रति Sq.ft. है… अतः सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि कृष्णन किस तरह से अपनी “अर्थव्यवस्था” चलाते होंगे…

अपने माता-पिता के आरंभिक विरोध के बावजूद उन्होंने “अक्षय ट्रस्ट” के नाम से संस्था बनाई, लोगों से सहयोग लेना शुरु किया, अपनी तरफ़ से अपनी जमापूंजी लगाई और काम शुरु कर दिया। CNN ने इन्हें इस वर्ष के दस सर्वोत्तम “हीरोज़ ऑफ़ द ईयर”में नामित कर लिया है, जिससे इन्हें CNN फ़ाउण्डेशन की तरफ़ से 25,000 डालर का पुरस्कार मिलेगा… परन्तु यदि आप, हम सभी अपने मित्रों के साथ मिलकर CNN की साइट पर कृष्णन के पक्ष में वोट करें और उन्हें दस में से जितवा दें तो यह राशि बढ़कर एक लाख डालर हो जायेगी। हम लोग दिन भर में कई-कई घण्टे कम्प्यूटर और इंटरनेट पर बिता देते हैं, कृष्णन का “अक्षय ट्रस्ट” पैसों की कमी से जूझ रहा है… आईये हम और आप मिलकर कृष्णन के पक्ष में वोटिंग करें, अपने मित्रों को बताएं ताकि वे भी वोट करें… और कृष्णन को जितवाएं।

(ध्यान रहे, वोट देने की अन्तिम तिथि 18 नवम्बर 2010 है…) 
एक व्यक्ति अलग-अलग IP पते से कितने भी वोट दे सकता है, साधारण से तीन चरणों में इस प्रक्रिया को करें…

1) नारायण कृष्णन की तस्वीर पर क्लिक करके “वोट” का बटन क्लिक करें…

2) CNN की इस वेबसाइट पर जायें… Like वाले बटन पर क्लिक करें…

3) मित्रों के साथ फ़ेसबुक आदि पर भी Share करने का बटन है, उसे क्लिक करें…

जिस व्यक्ति ने अपना पूरा जीवन इन बेसहारा लोगों के नाम समर्पित करने का फ़ैसला कर लिया है, जो इसलिये अविवाहित है क्योंकि उसके विचारों और सत्कर्म से मिलती-जुलती लड़की ढूंढना मुश्किल है… ऐसे व्यक्ति के लिये क्या हम अपने पाँच मिनट भी नहीं दे सकते?

अतः मेरा आप सभी से अनुरोध है कि खुद भी वोट करें, मित्रों से भी करवायें… न सिर्फ़ भारत से बल्कि विदेशों में स्थित अपने मित्रों के नेटवर्क से कृष्णन को जितवाने के लिये वोट करें… यदि आप आर्थिक रुप से सक्षम हैं और इस नेक काम के लिये कुछ आर्थिक मदद करना चाहते हैं तो आप मदुरै के अक्षय ट्रस्ट को सीधे सहयोग भेज सकते हैं।

भारत में स्थित किसी भी ICICI बैंक की शाखा से NEFT के जरिये सेविंग अकाउंट क्रमांक 601701013912 (खातेदार अक्षय ट्रस्ट, कोचाडई ब्रांच, मदुरै) में राशि भेजें,
जिसका कोड है I F S C I C I C 0 0 0 6 0 1 7
एवं M I C R 6 2 5 2 2 9 0 0 7 
(यह सहयोग राशि आयकर की धारा 80(G) के तहत छूट की श्रेणी में आती है)

विदेशी सहयोगकर्ता अक्षय ट्रस्ट के HELP ट्रस्ट के ICICI बैंक खाता क्रमांक 601601081471 (केके नगर, मेलूर रोड मदुरै) में भारतीय मुद्रा के अलावा किसी भी करेंसी में भेज सकते हैं, जिसका कोड है RTGS / IFSC / NEFT ICIC 0006016

यदि चेक अथवा डीडी से भेजना चाहें तो कृष्णन जी के पते पर भेज सकते हैं, जो कि इस प्रकार है –

9, West 1st Main Street,
Doak Nagar Extension, Madurai 625 010. India

Ph: +91(0)452 4353439/2587104 Cell:+91 98433 19933

E mail : ramdost@sancharnet.in www.akshayatrust.org

सभी पाठकों को दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएं… आईये इस प्रकाश पर्व पर कृष्णन जैसे सन्त को वोट देकर भारतीय संस्कृति को और समृद्ध बनायें…

Narayanan Krishnan, Akshay Trust Madurai, Food for Helpless in Madurai, CNN Hero of the Year, Akshay Patra, Five Star Hotel Chef, Madurai Social Service, Madurai Tourism, अक्षय ट्रस्ट मदुरई, अक्षय ट्रस्ट मदुरै, नारायण कृष्णन, CNN हीरो ऑफ़ द ईयर, मदुरई समाजसेवा, पर्यटन, Blogging, Hindi Blogging, Hindi Blog and Hindi Typing, Hindi Blog History, Help for Hindi Blogging, Hindi Typing on Computers, Hindi Blog and Unicode

Advertisements

23 Comments

  1. November 8, 2010 at 6:10 am

    >एक अच्छे कार्य को प्रेरित करने के लिये धन्यवाद.

  2. November 8, 2010 at 6:17 am

    >sabase pahale mai suruyat karta hoo.hope everyone will vote for AN INDIAN HERO.

  3. November 8, 2010 at 6:24 am

    >मानवता के सेवक को हमारा सलाम…

  4. November 8, 2010 at 7:25 am

    >इनके बारे में आपके ब्लॉग पर पहले भी पढ़ा था, पुनश्च स्मरणार्थ आपका धन्यवाद. :)अभी-अभी उनके लिए वोट भी कर दिया.

  5. November 8, 2010 at 9:16 am

    >maine vot kar diya logo se bhi anurodh karta hu ki vo bhi apna yogdan jarur de………

  6. abha said,

    November 8, 2010 at 9:18 am

    >हमें भी वोट कर दिया

  7. November 8, 2010 at 11:40 am

    >श्री नारायण जी को वोट कर कर दिया हमने. धन्यवाद! बहुत जरूरी पोस्ट है, इस नेक काम मे देर क्यूं.

  8. November 8, 2010 at 12:52 pm

    >धन्यवाद सुरेश जीमैने भी वोट कर दिया है।

  9. November 8, 2010 at 1:10 pm

    >धन्यवाद! वोट करना इतना शुभ कार्य भी हो सकता है, सोचा न था! कृष्णन जी को नमन! क्या एक ऐसी मुहिम चलाई जा सकती है जिसके द्वारा केन्द्र सरकार के फूड् सिक्योरिटी कार्यक्रम से कृष्णन जी को जोड़ा जा सके? ऐसे व्यक्तियों का निरीकक्षण हो तो यह योजना बेहद कामयाब हो सकती है वरना नेता और सरकारी बाबू सब चट कर जायेंगें।

  10. mindwassup said,

    November 8, 2010 at 2:05 pm

    >डाक्‍टर मुo असलम क़ासमीकहते है धर्म मूर्खो के लिए नही होताशायद इसी लिए धरती जनम के इतने साल बाद भी संतो के कुछ चंद नाम ही गिने जा सकते हैजरा इनकी बातो पर गौर फरमाइएये भारत को हिन्दू राष्ट बनाने का विरोध करते है और तर्क क्या देते हैक्या है अश्वमेघ यज्ञ?इस यज्ञ में एक ‘ाक्तिशाली घोड़े को दौड़ा दिया जाता था, जो भीराजा उसको पकड़ लेता उससे युद्ध किया जाता और उसके राज्य को अपने राज्यमें मिला लिया जाता था।प्रश्नयह है कि क्या ‘ाान्तिपूर्ण रह रहे पड़ोसी के क्षेत्र में घोड़ा छोड़करउसे युद्ध पर आमादा करना जायज़ होगा? और ‘आ बैल मुझे मार’ वाली कहावत परअमल करते हुए ‘ाान्ति से रह रहे पड़ोसी से युद्ध कर के उसके क्षेत्र परकब्ज़ा कर लेना, यह कौन सी नैतिकता होगी? और क्या अन्तर्राष्ट्रीय कानूनइस की अनुमति देगा?ये आर्यावर्त में फैले एक राजपरम्परा थी न की हिन्दू परम्पराइसी तरह अग्रेजो ने नीति चलायी थी की जिस राजा के संतान नही होगी उसको वो अपने राज्य में मिला लेगेदुनिया के हर कोने में इस तरह की परम्परा थीअब इनको क्या लगा की यदि हिन्दू राष्ट हो गया तो भारत का प्रधानमंती एक घोडा छोड़ेगा .जो अगर पकिस्तान या चीन में घुस गयातो वह से हमें लड़ाई करनी पड़ेगेसही मायने में भारत ने आज तक कभी लड़ाई की पहल ही नही की ,सदेव बचाव किया हैलड़ाई सदेव इस्लाम धर्म के ठेकेदार पकिस्तान ने किया है और जो भी इस्लाम राष्ट है उनकी हालत कुत्तो से भी बेबतर हैहा हा हा हा हा हा हा

  11. November 8, 2010 at 2:29 pm

    >इस आदर्श समाज सेवी के बारे में जानकारी थी और हमने भी वोट दाल दिया है. आभार.

  12. November 8, 2010 at 3:18 pm

    >धन्यवाद इस जानकारी के लियेएक सुक्षाव है।आप अपने पोस्ट में एक लाईन और जोड़ दिजीये कि तस्वीर पर क्लिक करके reCaptcha में दिये गये शब्द को डाल कर वोट बटन पर क्लिक करे अन्यथा उनका वोट नही सफल नही हो पायेगा।धन्यवाद

  13. November 8, 2010 at 6:10 pm

    >सुरेश जी, क्या तारीफ करूँ आपके इस लेख की , एकदम नयी और दिल को झाझोर करने वाली जानकारी …आपने वोट देने की बात कही है ..मैं अवश्य वोट करूँगा ..और आपके इस अभियान को लोगों तक पहुँचाने की कोशिश करूँगा ..और उन्हें भी वोट के लिए प्रेरित करूँगा ..उम्दा जानकारी -लाजबाब प्रस्तुति ..शुक्रिया

  14. ZEAL said,

    November 9, 2010 at 3:13 am

    >.मुझे भी इस शुभ कार्य के लिए वोट देने का मौका मिला–आभार आपका। कृष्णन जी इस नेक कार्य में सफल रहे हमेशा। बहुत से गरीबों का भला होगा। .

  15. November 9, 2010 at 3:34 am

    >Thanks for highlighting Narayanan. I lot of poeple still are not aware of his work and you have done an excellent job by spreading his humanatarian cause.

  16. Amit said,

    November 9, 2010 at 4:38 am

    >Respected Sir,Pranaam !!Maine bhi kai bar vote kar diya hai multiple computers se. Also transfered the money !!Jai Shri Ram ! Jai Hind !

  17. KUNJ said,

    November 9, 2010 at 8:12 am

    >Rajev ji sat sat naman,maine vote kar diya hai, aur apne sabhi dosto ko jyada se jyada vote karne ke liye kaha hai.

  18. man said,

    November 9, 2010 at 8:38 am

    >सार्थक पर्यास सर मानवता के हित में ,साधुवाद |

  19. ePandit said,

    November 9, 2010 at 10:31 am

    >सूचना के लिये धन्यवाद सुरेश जी, वोट दे दिया है। दरिद्र नारायण के सच्चे सेवक इन सन्त को हमारा नमन।

  20. November 9, 2010 at 12:45 pm

    >धन्यवाद इस जानकारी के लिये..मैने भी वोट कर दिया है।

  21. November 9, 2010 at 2:16 pm

    >ऐसी महान आत्माओ की इस भारत मे बहुत जरुरत हैऐसी शख्सियत से रुबरु कराने के लिये आपका आभार

  22. November 9, 2010 at 4:50 pm

    >जी हा मैने भी वोट दे दिया

  23. K M Mishra said,

    November 11, 2010 at 4:59 am

    >सुरेश जी सादर वंदेमातरम ! आपसे अनुरोध है कि इस पोस्ट को जागरण जंक्शन पर भी डाल दें ताकि कृष्णनन जी को कुछ वोट वहां के प्रबुद्ध पाठक, ब्लागर भी कर सकें । आभार ।


Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: